Wednesday, February 22, 2017


सप्तदिवसीय स्व. मोहित बंसल क्रिकेट चैंपियन कप 2017 का समापन...

16 फरवरी से चली आ रही स्व. मोहित बंसल क्रिकेट चैंपियन कप 2017 में लगभग 70 टीमों ने अपनी किस्मत आजमाई और अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत से लालावास के खेल परिसर में अपना प्रर्दशन दिखाया। अथक प्रयासों, मेहनत, और जज्बे को कायम रखते हुए लालावास और सिधनवा की टीम सुई व बलियाली की टीमों को सेमीफाइनल में मात देकर फाइनल में प्रवेश किया।
22 फरवरी को इस प्रतियोगिता के अंतिम दिन लालावास और सिधनवा की टीम के बीच फाइनल मुकाबला खेला गया। इस मुकाबले को देखने के लिए ग्राम लालावास से समस्त माता-बहनें भी अत्यधिक मात्रा में मुकाबला देखने पहुँची। जिसमें सिधनवा की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 82 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी लालावास की टीम महज 70 रन ही बना पाई। अंततः सिधनवा की टीम ने यह फाइनल मुकाबला 12 रन से जीत कर प्रथम स्थान प्राप्त किया। प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली सिधनवा की पूरी टीम को सामुहिक रूप से  31000 रूपये का नकद राशि व ट्राफी के साथ सम्मानित किया गया। इस प्रतियोगिता में मोनू बलियाली को मैन ऑफ दा सीरीज से नवाजा गया। द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाली लालावास की टीम का प्रर्दशन काफी सराहनीय रहा। लालावास की टीम को सरपंच धर्मपाल शर्मा ने 21000 रूपये की नकद राशि व  ट्राफी के साथ सुशोभित किया गया। लालावास की टीम की अगुवाई सोनू शर्मा के नेतृत्व में की गई। लालावास की इस होनहार टीम में सुनील शर्मा, भुपेन्द्र शर्मा, अनील शर्मा, सोनू शर्मा, विशाल बंसल, नरेश शर्मा, प्रवेश शर्मा, विरेन्द्र शर्मा, नवीन शर्मा, व धर्मेन्द्र शर्मा शामिल थे। सेमीफाइनल मैच में हार का सामना करने वाली दोनों टीमों में से विजय प्राप्त करने वाली बलियाली की टीम को तृतीय पुरूस्कार स्वरूप 2100 रूपये की नकद राशि से सम्मानित किया गया। बलियाली की टीम का प्रर्दशन इस प्रतियोगिता में विशेष रूप से लाजवाब था।
निजी ग्राम स्पर्धाओं का भी हुआ आयोजन... 
ग्राम लालावास में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी निजी खेल स्पर्धाओं का आयोजन किया गया था।  इन प्रतियोगिताओं में नवीन धारवानबास जी ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। 
प्रतियोगिता का शुभांरभ रस्साकसी के खेल से हुआ।  जिसमें लालावास की आठ टीमों ने हिस्सा लिया। जिसमें जनकराज तथा रामविलास वर्मा की टीमें फाइनल मुकाबले में पहुँची। जनकराज की टीम को मात देते हुए रामविलास वर्मा की टीम ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। रामविलास वर्मा की हलचल को परखते हुए नवीन धारवानबास जी ने निजी तौर पर भी सम्मानित किया। रामविलास वर्मा की रस्साकसी की टीम में भीम रंगा, राजू रंगा, सुरेश वर्मा, विनोद वर्मा व सुरेश शर्मा  शामिल थे जबकि जनकराज की टीम में कृष्ण रंगा, नरेन्द्र छोटिया, राजकुमार वर्मा, दीपक वर्मा तथा विवेक वर्मा शामिल थे। लड़को की बौरी दौड़ में करीब 20 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। जिसमें ललित शर्मा ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। लड़कियों की बौरी दौड़ में निशा पुत्री पवन ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। पैरकड़ी दौड़ः- यह एक भिन्न प्रकार की दौड़ थी जिसमें दो प्रतिभागियों के द्वारा तीन  पैरों से दौड़ना था। यह मुकाबला भी काफी रोचक रहा। इसमें 24 प्रतिभागियों ने 12 टीमें बनाकर भाग लिया। इस स्पर्धा में ललित शर्मा व दिपक वशिष्ठ की जोड़ी ने बड़े अंतर से सफलता हासिल की। मटका दौड़ के 8 महिलाओं में से राजेश पत्नी श्री भगवान ने प्रथम तथा सुमन पत्नी कुलदीप ने दुसरा स्थान प्राप्त किया। बुढ़ो की दौड़ में 9 प्रतिभागियों में से कैप्टन भीमसैन ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। लड़कीयों की अनेक वर्गों की दौड़ों में ज्योति, लक्ष्मी, ललिता, ममताज ने प्रथम स्थान प्राप्त किया जबकि जानू, सुशीला, पुनम, रेनु, ममता, ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। मोनिका, अंतिम, ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। लड़कों की अनेक वर्गों की दौड़ों में योगेश, विक्रम, सचिन, ने प्रथम स्थान प्राप्त किया जबकि मोहित, भारत, ने दुसरा स्थान व सोनू, दिपक, धोनी, कृष्ण ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। बाल वर्ग के ननिहालों की एक दौड़ में रीतु, खुशी, इशु, डिम्पल, दिया, अनुष्का, मनीष, रवि, अंकित तथा संजना सभी ने प्रथम स्थान प्राप्त कर समस्त दर्शकों को चकित कर दिया। 100 मीटर नवयुवकों की दौड़ में भुपेन्द्र शर्मा ने प्रथम जबकि प्रवेश शर्मा ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। 100 मीटर नवयुवतियों की दौड़ में ललिता ने प्रथम जबकि रेनू ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। 100 मीटर महिलाओं की दौड़ में सुनेहरी ने प्रथम जबकि राजेश ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। लड़कों की 400 मीटर की उच्चवर्ग दौड़ में योगेश ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। लड़कों की 400 मीटर की निम्नवर्ग दौड़ में नरेन्द्र ने प्रथम व ललित ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। लड़कीयों की 400 मीटर की दौड़ में ममताज ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। उच्चवर्ग चम्मच दौड़ में ललिता ने प्रथम व किरण ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। निम्नवर्ग चम्मच दौड़ में योगिता ने प्रथम व वंदना ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। शाम करीब 4 बजे इस सप्तदिवसीय खेल प्रतियोगिता का समापन किया गया। समापन अवसर पर समस्त प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को पुरूस्कार वितरीत कर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर ग्राम लालावास के सरंपच धर्मपाल शर्मा, पचं जगदीश शर्मा, कैलाशचन्द्र, सुरेश शर्मा, सुरजन शर्मा, नरेश वर्मा, नरेन्द्र वर्मा, रामविलास वर्मा, रामप्रताप लाटा, राजेन्द्र रंगा, केशरमल रंगा, रामनिवास शर्मा, लखीराम, उदमीराम, गिरधारीलाल, मामनराम, रामौतार शर्मा, ईश्वर शर्मा, महाबीर, सन्तलाल, रामफल, रोहतास, शुभराम, फकीरचंद, बलवान, बलबीर, जितेन्द्र, धर्मेन्द्र, कृष्ण, सतबीर, भीम, सुनील शर्मा, प्रविण वर्मा इत्यादि मौजूद थे। इस सातदिवसीय प्रतियोगिता में पूर्णरूप से सहयोग देते हुए मदन वर्मा (गणक), सुनील वर्मा, मास्टर विनोद रंगा, सतीस शर्मा, अनील जाँगड़ा (शक्त्तिमान), राहुल, मनमोहन, अंकित, सचिन, विकास, दुष्यंत (विवरण प्रसारक) दीपक वशिष्ठ, सुनील रंगा (SRL) इत्यादि ने इस प्रतियोगिता को अंतरिम चरण पर पहुँचानें में अहम भुमिका निभाई। इन सभी सहयोगियों को विशेष रूप् से सम्मानित भी किया गया।
अधिक जानकारी के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाईक किजिए और हमारे साथ बने रहिए। अभी तुरंत यहाँ क्लिक किजिए.....
                                                                    https://www.facebook.com/lalawasiya